HANSRAJ RAGHUWANSHI,AGE,FAMILY,WIFE,LIFESTYLE,BIOGEAPHY IN HINDI.

HANSRAJ RAGHUWANSHI BIOGEAPHY IN HINDI

HANSRAJ RAGHUWANSHI BIOGEAPHY,AGE,FAMILY,SONGS,LIFESTYEL IN HINDI

जैसा की हम सभी जानते है की हंसराज रघुवंशी भारत में काफी प्राचीलित चल रहे है | लेकिन कहते है की हर सुपर स्टार की एक फेलियर कहानी जरूर होती है | हमने जो इस संसार सी सीखा है वो सिर्फ फेलियर की कहानी से सीखा है | क्यूकी कहते है की इंसान की ज़िंदगी में सक्सेस स्टोरी हमे जीवन की हकीकत को बताती क्यूकी वीनर की असली वेलीयु फेलियर को होती है |

हम आज हंसराज रघुवंसी को जानते है तो वो सिर्फ उनके विरल होने के कारण | लेकिन भारत में ऐसे कई लोग है जिनके पास टेलेंट तो है लेकिन वे आगे नहीं आ पाये | हम अपने द्वरा लिए गए निर्णयो के ही जिम्मेदार हो सकते है , किसी और के नहीं |

हंसराज रघुवंसी का जन्म 18 जुलाई 1992 को बिलासपुरा में हुआ था | कहते है की वे एक ऐसे परिवार में पैदा हुये जो पूरी तरीके से गरीब था | उनके पिता के पास किसी प्रकार का बड़ा कारोबार नहीं था | वे सिर्फ अपने बच्चो को पालने के लिए शिमला में चोटीमोटी नौकरी किया करेते थे

HANSRAJ RAGHUWANSHI BIOGEAPHY

... ... ...

लेकिन उन्होने अपने बेटे को कॉलेज तक पढ़ाया | लेकिन वे अच्छे से जान चुके थे की उनके बेटे के अंदर सिंगर बनने की खूबी है | लेकिन वे मजबूर थे , क्यूकी वे अपने बच्चे को सिंगर नहीं बल्कि सरकारी नौकर बनाना चाहते थे | क्यूकी वे अच्छे से जान चुके थे की सिंगर बड़े घरानो के लोगो की बात है |

हंसराज ने जैसे ही अपनी पढ़ाई पूरी की वे नौकरी के लिए इधर उधर भटकते रहे | वे अच्छे से जान चुके थे की सरकारी नौकरी को हासिल करना बहुत ही मुसकिल है |

हंसराज को पैसो की ज्यादा जरूरत होने लगी | उन्होने सीधे की किसी कॉलेज में वेटर की नौकरी की | लेकिन कहते है ना की टेलेंट को छिपा नहीं सकते | और देखते ही देखते उन्हे अब उसी कॉलेज में 2 वर्ष हो चुके थे | लेकिन वे सभी कॉलेज स्टूडेंट के चहेते बन चुके थे |

HANSRAJ RAGHUWANSHI BIOGEAPHY IN HINDI

कॉलेज के सभी स्टूडेंट उनकी आवाज के दीवाने थे | और एक दिन उन्हे अपने दोस्त के कहने पर एक गाना रेकॉर्ड किया जो काफी बेहतरीन था | लेकिन उस समय उस गाने पर इतने व्यू नहीं आए | भारत की भाग दौढ भरी ज़िंदगी में हंसराज का इतने जल्दी फेमस होना आसान नहीं था |

लेकिन हंसराज ने अपनी रिकॉर्डिंग छोड़ि नहीं | उन्होने कई गाने लिखे और रेकॉर्ड किए लेकिन वे सभी गाने भोनेनाथ और भारतीय भगवानों के भजन थे | क्यूकी वे हमेशा से शिव समभू पर विश्वाश रखते थे | कहते है की हम सभी का इस धरती पर कोई ना कोई मकसद होता है , जिसे उसे पूरा करना होता है | इसलिए अपनी ज़िंदगी को उहि बर्बाद ना करे |

और वो समय दूर नहीं था जब हंसराज का गाना मेरा भोला है भण्डारी लोगो के दिलो की जान बन गया | भारत के हर कोने में ये गाना बजता रहा | और हंसराज रघुवंशी को लोगो ने ढेर सारा प्यार और फॉलोइंग दी | सभी चाहते थे की ये सिंगर बहुत सारे भजन जाये और भारत को मनोरंजित करे |

हम सभी के जीवन में एक बात को तय है की हम बहुत कम वक्त के लिए इस धरती पर आए है | हमने इस संसार को अभी पूरा नहीं जाना है लेकिन कहते है की यदि हम समय पर कुछ नहीं कर सके तो सब कुछ अपने हाथो से चला जाता है |

हंसराज रघुवंशी ने भले ही एक ग़रीब परिवार में जन्म लिया हो | लेकिन उन्होने वो सिंगिंग को कभी नहीं छोड़ा | क्यूकी वे अच्छे से जान चुके थे की यदि बड़ा करना है तो यही मोका है | और ऐसे भी दुनिया में मोके बार बार नहीं मिलते |

HANSRAJ RAGHUWANSHI BIOGEAPHY,AGE,FAMILY,SONGS,LIFESTYEL IN HINDI

Leave a Comment

Your email address will not be published.