WHY INDIAN STUDENTS CHEATS IN EXAMINATION HALL

भारत के विद्यार्थी नक़ल क्यों मारते है? (FACTS)

EXAMINATION HALL IN CHEAT

                                      
... ... ...

 

            ज्यादातर  माता-पिता अपने बच्चो को अच्छे अंक के चक्कर में बच्चो को  रोबोट बना रहे है 
 
आज भारत के सामने सबसे बड़ी समस्या देश के युवा की दशा है,भारत में विद्यार्थी के नक़ल मारने कारण बहुत ही सुलझा हुआ है| ये बात नहीं चिप सकती की भारत के बच्चो के आत्महत्या का कारण उनकी पढाई में विफलता है| माता-पिता अपने बच्चो के पढ़ाई से सम्बंधित बहुत ही सख्त हुए जा रहे है,जिससे उनके जीवन को बोहत ही ज्यादा खतरा है|
अगर आप अपने बच्चो को वाक्य में पढ़ा लिखा बनाना चाहते हो तो उन्हें प्रकृति के प्रति सवेदंशील बनाए| उन्हें हर पर उन्हें  धरती पर रहने के लिए वास्तविक पढ़ाई को समझाए ताकि वो जीवन को समझ सके|
 
लेकिन भारत के बच्चो के नक़ल मारने का कारण यह है की उन्हें  सिर्फ अंक से मतलब होता है ताकि वे अपने कक्षा में उतर्रीण हो सके  भारत के बच्चो को अच्छे से पता है की  देश में नंबर(%) की value है talent तो सड़को पे घूमता है 
 
भारत देश के युवा की इतनी बुरी हालत है कि सरकार आलू, टमाटर, दाल पे जितना ज्यादा ध्यान देती है उसका 0.02% भी ध्यान देश के युवा पर नही देती। जिसके चलते देश हर दिन पीछे जा रहा है| क्युकी देश की पहरी परिधि तभी मजबूत हो सकती है जब देश के युवा मानसिक और शारीरक रूप से स्वस्थ हो |
 
STUDENTS CHEAT IN EXAMINATION HALL, CBSC,RBSC
             
अगर भारत की तुलना में दुसरे विकसित देशो के युवाओं को देखा जाए तो वह कक्षा में कभी उतरींण आने के लिए नहीं पढ़ते | उन्हें सिर्फ अपने आपको सही साबित करना होता है इस लिए वे अपने आप को काबिल बनाने के लिए खुद पर ध्यान देते है ना की किताबी कीड़े बन कर रहा जाते है | 

WHY CHEAT INDIAN STUDENTS :-

यह बात सत्य है की भारत के अन्दर हर दिन बेरोजगारी बढ़ रही है, भारत में युवाओं को हर दिन कोम्पितिओन शब्द का सामना करना पढता है जिससे उन्हें नींद भी नहीं आती, जिससे वे मानसिक तरीके से धवस्त हो जाते है | 
भारत देश में विधार्थी  पर शिक्षा का इतना दबाव दिया जाता है! कि विद्यार्थी रात भर बैठ के नोट्स copy करता है और उम्मीद से ज्यादा number ना आने पर stressful or harassment में आकर वह suicide कर लेता है क्योंकि किताबी शिक्षा का इतना pressure होता है, की उसे मौत सरल लगती है

google पर लाखों की संख्या में स्टूडेंट मिल जाएंगे जो teacher, और शिक्षा के pressure में आके आत्महत्या कर चुके है। ऐसे खोखले युवा शक्ति को देख कर कोई भी विकशित देश को फिर से गुलाम करने की कोई जरुरत नही पड़ेगी क्युकी यह देश पहले से मानसिक रूप से गुलाम है|

विद्यार्थी को हमेशा बचपन से कॉपी करना सिखाया जाता है चाहे वो स्कूल की यूनिफार्म हो या पास में रहने वाला किताबी कीड़ा विद्यार्थी। देश में शिक्षा की इतनी कमी है,कि उन्हें यूनिफार्म के माध्यम से बताया जा रहा है कि हम सब एक है।

 और हमेशा parents बच्चो को ये समजाते है कि क्लास में   no1 आना,जिससे विद्यार्थी की mentility स्वार्थ में बदल   जाती है और भविष्य में विद्यार्थी केवल अपने बारे में ही   सोचता है।

भारत के विद्यार्थीयो की इतनी बुरी दशा के भारत के आदिवासी इलाकों में लड़कों को ये भी नही पता की भारत के राष्ट्रपति का नाम क्या है। जब भारत की शिक्षा इतनी कमजोर हो सकती है तो वो दूसरे देश का सामना और उससे आगे कैसे बढ़कर दुनिया में पहेचान बढायेगा।

असल बात तो ये है कि हम सब का का brain wash कर दिया असल में ये अनपढ़ और भ्रष्ट लोगों ने देश को खोखला कर दिया है। पहले ब्रिटिश सरकार की गुलामी करवाई और अब देश बेच कर खुद विदेशो में परिवार के साथ ज़िन्दगी जी रहे है।

INDIAN EXAM THINKING POINT

असल में देश के युवाओं को शिक्षा में ये सीखना चाइये की हम सब भारतीय है। भेदभाव से परे हर भारतीय के प्रति प्रेमभाव पैदा करने वाली शिक्षा देनी चाइये।

ज्यादा परसेंटेज के चक्कर में लड़कों की शारीरिकता कमजोर हो रही है। और वे अपने आप को एक रोबोट की तरह बना लिया है। जिसके अंडर उस सब्जेक्ट से सम्बंधित सारा ज्ञान है लेकिन मानव जीवन से कई गुना ज्यादा कोसो दूर है।

 मेरे friend के suicide का कारन भी इसी मेसे था अगर आप एक perents या teacher है तो इसे पढ़े जरूर  क्योंकि जो मेरा नजरिया था जो मेने bolgके माध्यम से बता दिया।

EXAM HALL IN CHEATING

Leave a Comment

Your email address will not be published.